• Gonda News in Hindi गाये के बछड़े को बचाने के लिए पांच युवक कुएं में उतरे लेकिन वापस नहीं निकल पाए । उन्होंने वहीं दम तोड़ दिया ।

कुएं में जहरीली गैस का रिसाव हुआ । पांचों युवक वहीं पर फंस गए । काफी मशक्कत की गई इसके बाद बाहर निकाला गया । पांचों युवकों को अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया है । घटना नगर कोतवाली क्षेत्र के महाराजगंज मोहल्ले की है । खबर लगते ही पुलिस की टीम भी पहुंची । ये आप देखिए । यही वो जगह जहां पर बछड़े को बचाने के लिए पांच लोग उतरे लेकिन जहरीली गैस का रिसाव हो गया और पांचों युवकों ने वहीं दम तोड़ ।

  • प्रशासन के अधिकारी पहुंचे क्या उनका कहना चिल्ल येल्तसिन ये जो कुछ भी मारा पुलिस को वाकई पारा छुपाने में और इस कुएं में पूरे इलाके का कूड़ा फेंका जाता था पटिये व निष्प्रयोज्य हो चुका था ।

इसके बगल में पीपल का पेड़ था जहां एक छोटा सा मंदिर बना हुआ है वहां पूजा अर्चना उठी उसी चबूतरे पर कचरा साफ करके और कुएं को दिया जिसको बचाने के लिए पहले एक युवक गया और उसके ऊपर जब उसका दम घुटने लगा तो उसने अपने बचाव के लिए गुहार लगाई और उसी की गुहार के बाद वहां पर उसके तीन भाई जो एक एक करके कुएं में उतरे और उसके बाद एक अन्य व्यक्ति वो कुएं में उतरा । पांचों लोगों की उसी कुएं में जहरीली गैस के कारण मौत हो गई ।

जिला प्रशासन को सूचना मिलते ही वहां पर पार्टी के अधिकारी व जवान अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और उन्होंने किसी तरह से उचित उनको बाहर निकाला । बिल्कुल अबके फरेरो को ये घटना जैसे ही हुई है वाकई दुखद घटना है बछड़े को बचाने के लिए ये युवक पहुंचे थे लेकिन जैसे कुंए में उतरते हैं जहरीली गैस के रिसाव से पांचों की मौत हो जाती वासुकी आपको तमाम बातचीत के लिए । और किस तरह उस दौरान अफरा तफरी रही ।

मौजूद कुछ लोगों ने तुरंत उन्हें बाहर निकाला । शासन की टीम में पहुंचे अस्पताल ले जाया गया लेकिन तब तक उन्होंने दम तोड़ दिया था । पुलिस के जवान भी पुलिस के अधिकारी भी उस दौरान मौजूद थे जब युवकों को बाहर निकाला गया ।

इसमें महेंद्र कुमार हमारे साथ एएसपी जुड़ गए हैं । इसमें महेंद्र जी क्या असर वहां पर हुआ क्यूंकि ऐसा लग रहा कि लोगों को जानकारी नहीं थी कि वहां ऐसा हादसा हो सकता है । ये कहकर महाराजगंज चौकी क्षेत्र में जो राजा मोहल्ला है वहां पर राई लेकर आए मंडराया और उसी के बगल में एक कुंआ है जोकि पर्चा है और एक कान एक्टिव हैं और एक का कोई दूसरा पानी का कोई योग्य नहीं है और इससे पानी ज्यादा है ही नहीं ।

इसके नीचे जो लोग कूड़ा करकट डालते रहते हैं और उसके बजाय थे से की चारों और वहां पर गैस वो जो लड़का एक कोटड़ा सबसे पहले टैब हाओ को बचा चुकी के ज्ञाता तो को निकालने के लिए बताने के लिए उसको जो है वो नीचे गया और जब उसको ही कोई घुटन महसूस हुई तो उसने अन्य लोगों को पुकारा तो उसके परिवार के विष्णू रिंकू छोटू वो ही धीरे धीरे उसको बचाने के लिए उतर गए और एक एक मंडूक शैली है कि मोहल्ले के जो बगल से गुजर रहे थे |

वो भी जब उन्होंने देखा कि इसमें तो ये ज़ोर में लोग गए हैं और उनका जीवन संकट में है तो वो भी गए लेकिन पांचों लोग शुक्रवार गौरी भी कैद थी और वो सब लोग अचेत हो गये ऊपर पानी पी ज्यादा नहीं था तो अब कीचड़ और है जो कूड़ा है वो गन्दगी थी तो उसके बदन से गैस थी तो वो सब एक हो गए उसमें बाहर निकलते ही पुलिस को सूचना मिली तो फायरबिग्रेड भड़क गई और उनको उन्होंने उसको रेस्क्यू के आम लोगों ने और तत्काल डिस्टिक हॉस्पिटल को भेजा गया लेकिन वहां पर उनको मृत घोषित कर दिया ।

जरूर पढ़े:- India-China LAC News: Ladakh में तनाव बढ़ा, Rezang La में India-China Army आमने-सामने